बिग बॉस विनर बनने के लिए कौन-सी क्वॉलिटी होना जरूरी? श्वेता तिवारी ने बताया

एक्स बिग बॉस विनर श्वेता तिवारी को रियलिटी शो में काफी पसंद किया गया था. श्वेता तिवारी से बिग बॉस विनर बनने की तीन खूबियों के बारे में पूछा गया? जानते हैं इस पर श्वेता ने क्या जवाब दिया.

एक्स बिग बॉस विनर श्वेता तिवारी को रियलिटी शो में काफी पसंद किया गया था. श्वेता के गेम और उनकी स्ट्रैटिजी ने उन्हें जिताया. एक इंटरव्यू में श्वेता तिवारी से बिग बॉस विनर बनने की तीन खूबियों के बारे में पूछा गया? जानते हैं इस पर श्वेता ने क्या जवाब दिया.

कौन ही क्वॉलिटी बना सकती है बिग बॉस का विनर?

श्वेता ने बताया कि उन्हें नहीं पता बिग बॉस का विजेता बनने के लिए कौन सी खूबियों को जरूरत पड़ती है. मगर श्वेता ने विनर बनने के लिए जरूरी बात का खुलासा करते हुए कहा- अगर लोगों को आपसे प्यार हो गया तो वो आपके लिए जरूर वोट करेंगे. अगर आप सच्चे हैं और स्ट्रॉन्ग हैं तो वो आपके लिए फील करेंगे और वोट्स देंगे.

श्वेता ने कहा- ''मैंने ये भी देखा है जो ज्यादा बनने की कोशिश करते हैं, ज्यादा ड्रामा करते हैं, उन्हें लोग पसंद नहीं करते. अगर विनर्स की लिस्ट देखें तो अब तक वो ही लोग जीते हैं जो पूरे सीजन एक जैसे रहे हैं. जिनकी जर्नी में खास बदलाव नहीं आया है.''

10 सालों में कितना बदल गया बिग बॉस?

श्वेता तिवारी का मानना है कि सीजन 4 से सीजन 13 तक बिग बॉस में कई सारे बदलाव आए हैं. श्वेता ने दो सबसे बड़े बदलाव बताते हुए कहा- ''हमारे वक्त बाहर वालों से कोई संपर्क नहीं होता था. हमें मेकअप करने के मना किया करते थे, हमें लिमिटेड कपड़े पहनने को कहते थे. बिग बॉस हमारे कपड़े भी ले लिया करते थे. लेकिन धीरे-धीरे मैंने देखा है कि अब लोग बेहतर लग रहे हैं.''

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग