तमिलनाडु में जानेमाने शिक्षण संस्थानों का संचालन करने वाले समूह पर छापा

आयकर विभाग ने चेन्नई और मदुरई क्षेत्र में बड़ी संख्या में स्कूल एवं कॉलेजों के साथ  प्रमुख शिक्षण संस्थानों का संचालन करने वाले समूह पर छापा मारा है।

 

आयकर विभाग ने चेन्नई और मदुरई क्षेत्र में बड़ी संख्या में स्कूल एवं कॉलेजों के साथ  प्रमुख शिक्षण संस्थानों का संचालन करने वाले समूह पर छापा मारा है। ट्रस्ट के कार्यालय, ट्रस्टियों और समूह के प्रमुख कर्मचारियों के निवास स्थान पर छापेमारी की गई। यह धर्मादा ट्रस्ट तमिलनाडु में एक मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल, इंजीनियरिंग कॉलेजों और स्कूलों का संचालन करता है। राज्य भर में 64 स्थानों पर खोज एवं पूछताछ का अभियान चलाया गया।

छापेमारी के दौरान विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजों के छात्रों से विभिन्न नामांकन के तहत जुटाए गए शुल्क और समूह द्वारा संचालित स्कूलों की गैर-लेखांकित नकदी का पता चला। इसके अलावा ऐसे तमाम नकद रसीद बरामद हुए जिनका अस्पताल के खाते में कोई लेखा-जोखा नहीं था। छापेमारी के दौरान पता चला कि ऋण और ब्याज को नकद में चुकाया गया था जिसे पहले गैर-लेखांकित निवेश के उद्देश्य से लिया गया था। इन रसीदों का उपयोग रकम भुगतान के जरिए संपत्तियों की खरीद में किया गया था।

इस छापेमारी से लगभग 2 करोड़ रुपये की नकदी जब्त की गई है। अब तक खुलासा होने वाली बेहिसाब आय में से समूह ने 532 करोड़ रुपये अघोषित आय के रूप में दर्शाया है। छापेमारी तत्काल पूरी हो गई है और आगे की जांच जारी है।

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग