नोवेल कोरोना वायरस से बीजिंग में पहली मौत

नोवेल कोरोना वायरस से बीजिंग में सोमवार को पहली मौत हुई। अब तक इस खतरनाक वायरस से मरने

 

नई दिल्ली:

नोवेल कोरोना वायरस से बीजिंग में सोमवार को पहली मौत हुई। अब तक इस खतरनाक वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 80 हो गई, जबकि 2300 लोगों के इससे पीड़ित होने की खबर है। इनमें से 350 लोगों की हालत नाजुक है। 

 

26 जनवरी, 2020 तक देश में 137 उड़ानों से आए 29,707 यात्रियों में नोवेल कोरोना वायरस के लक्षणों की जांच की गई है। अभी तक देश में कोई भी व्यक्ति इस वायरस से संक्रमित नहीं मिला है।

उधर, बिहार की राजधानी पटना में चीन से लौटी एक युवती को पटना मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (PMCH) में भर्ती कराया गया है। युवती बिहार के छपरा की रहने वाली है और कुछ ही दिन पहले चीन से लौटी है।

युवती को पहले छपरा के एक अस्पताल में आईसीयू में भर्ती कराया गया था. इलाज के दौरान स्थानीय डॉक्टरों ने पाया कि युवती की बीमारी के लक्षण कोरोना वायरस से मिलते-जुलते हैं। इसके बाद डॉक्टरों ने युवती को पटना के पीएमसीएच में रेफर कर दिया है। युवती का पीएमसीएच में इलाज चल रहा है।

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग