बटन आहिस्सा से दबाए, जोर का झटका धीरे से दें

दिल्ली में चुनावी सरगर्मी की आज आखिरी रात है। कल यानी शनिवार आठ फरवरी को मतदान होगा। 11 फरवरी को रिजल्ट आएंगा।

 

दिल्ली में चुनावी सरगर्मी की आज आखिरी रात है। कल यानी शनिवार आठ फरवरी को मतदान होगा। 11 फरवरी को रिजल्ट आएंगा। इसलिए बटन को आहिस्सा दबाएं जिससे जोर का झटका धीरे से लगे।

इस चुनाव में एक तरफ अरविंद केजरीवाल की पार्टी आम आदमी पार्टी है तो दूसरी तरफ कांग्रेस, भाजपा और अन्य दल हैं। पर लड़ाई मुख्यरूप से आम आदमी पार्टी यानी आप और भाजपा के बीच ही है। इस बार सत्ता किसके सिर सजेगी, दिल्ली किसे अपना राजा चुनेगी यह तो 11 फरवरी को ही साफ हो पाएगा पर सभी पार्टियों के दावे अलग अलग हैं। अरविंद केजरीवाल की पार्टी ने पिछले चुनाव में 67 सीटें जीतीं थीं। भाजपा तीन पर और कांग्रेस का खाता भी नहीं खुला था।

एक पार्टी के नेता ने बताया कि भाजपा 45 सीटें जीतने का दावा कर रही है। खुद अमित शाह तक कह रहे हैं कि हम लोग 45 सीटें जीतकर दिल्ली का सिंघासन हासिल करेंगे वहीं केजरीवाल अपने पिछले चुनाव के नतीजों को दोहराना चाहते हैं। ऐसे एक बात तो साफ है कि इन दोनों पार्टियों के अलावा अभी तक किसी तीसरी पार्टी ने अपने सरकार बनाने के दावे के बारे में कुछ भी नहीं कहा है। हालांकि कांग्रेस कुछ हद तक दावे कर रही है कि वह भी सरकार बनाने की दौड़ में शामिल होगी। बसपा,जदयू, लोजपा आदि भी यहां चुनाव लड़ रही है।

शाहीन बाग की चर्चा

इस चुनाव में मुद्दे अपनी जगह हैं। पर शाहीन बाग को लेकर पीएम से लेकर हर नेता तक अपने वक्तव्य में शामिल किया। कुछ भाजपा नेता इस विषय पर आचार संहिता उल्लंघन का शिकार भी हो गए।

भाजपा के नेताओं को मिली सबसे ज्यादा नोटिस

इस चुनाव में भाजपा नेताओं को आचार संहिता तोड़ने की सबसे ज्यादा चिट्टी मिली। दो पूर्व मुख्यमंत्रियों के अलावा एक केंद्र के मिनिस्टर और परवेश वर्मा को तो चुनाव आयोग ने 48 घंटे के लिए बैठा ही दिया।

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग