ट्रंप के भारत आने से पहले सीएए के विरोधी सड़कों पर उतरे

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत आने के महज कुछ घंटे पहले सीएए के विरोधी सड़कों पर उतर आए हैं। देश के अखबार जब इन खबरों को कवर कर रहे होंगे उस समय

 

राजेश राय, नई दिल्ली।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत आने के महज कुछ घंटे पहले सीएए के विरोधी सड़कों पर उतर आए हैं। देश के अखबार जब इन खबरों को कवर कर रहे होंगे उस समय ट्रंप की टीम भारत में होगी। तब यह स्वाभाविक ही है कि ट्रंप न केवल इन विरोध प्रदर्शनों को जानने में अपनी इच्छा दिखाएंगे बल्कि यह जानने का भी प्रयास में लग जाएंगे कि देश में इस तरह का विरोध आर्थिक परिवेश के लिए कितना हानिकारक हो सकता है। संभव यह भी है कि सीएए और एनआरसी को लेकर जो विरोध आज उग्र हुआ है कहीं इसके पीछे विरोधियों की मंशा अपनी बात ट्रंप तक पहुंचाने की तो नहीं है।

इस समय दिल्ली और अलीगढ़ सीएए और एनआरसी के मुद्दे पर गरम है। ट्रंप का दौरा यूपी और गुजरात और दिल्ली में सबसे ज्यादा है। दिल्ली में वे स्कूलों और अन्य कार्यक्रम में होंगे। वहीं यूपी में वे ताज का दीदार करेंगे। गुजरात में तो उनका कार्यक्रम है ही। इसलिए दिल्ली इन मौके पर न जले तो शायद देश के बारे में एक अलग सूचना जाए।

आपको बता दें कि नागरिकता संशोधित कानून (CAA) के खिलाफ शाहीन बाग का प्रदर्शन अभी खत्म भी नहीं कि अब जाफराबाद में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गया है। प्रदशर्नकारियों ने यमुनापार में चार रोड बंद कर दिए हैं। जिससे जाम की स्थिति है।  शनिवार रात को महिलाओं ने जाफराबाद मुख्य रोड बंद किया था। प्रदर्शन की वजह से चांद बाग वज़ीराबाद रोड, खुरेजी की सड़क पूरी तरह से जाम है।

रविवार सुबह बड़ी मुश्किल से पुलिस ने मौजपुर से सीलमपुर जाने वाला मार्ग खुलवाया। दूसरा मार्ग अभी बंद है। रविवार सुबह चांद बाग के पास खजूरी से नंद नगरी की ओर जाने वाले वजीराबाद मार्ग को महिलाओ से बंद कर दिया। वही खुरेजी में महिलाओं ने पटपड़गंज  रोड के एक मार्ग को बंद कर दिया। वहीं यमुना विहार के नूर ए इलाही रोड को भी बंद कर दिया। ऐसे में अगर आप इन सड़कों पर जाने से बचे। 

 

जाफराबाद में मेट्रो स्टेशन के नीचे सड़क पर जोरदार प्रदर्शन जारी है। हजारों की संख्या में भीड़ जमा है। एक रास्ता पूरी तरह से बंद है।

यहां से पथराव की भी खबर है। पथराव में कई लोग चोटिल हुए हैं। कुछ मीडियाकर्मियों के भी घायल होने की सूचना है।

 

 वहीं भाजपा नेता कपिल मिश्रा सीएए के समर्थन में दिल्ली के मौजपुर चौक पर धरने पर बैठ गए हैं।   कपिल मिश्रा ने ट्वीट करके कहा है कि जाफराबाद में अब स्टेज बनाया जा रहा है। चुप रहिए, जब तक आपके दरवाजे तक ना आ जाएं, चुप रहिए।

कपिल मिश्रा ने ट्वीट करके कहा कि जाफराबाद में अब स्टेज बनाया जा रहा हैं। एक और इलाका जहां अब भारत का कानून चलना बंद। सही कहा था मोदी जी ने शाहीन बाग एक प्रयोग था। एक-एक करके सड़कों, गलियों, बाजारों, मोहल्लों को खोने के लिए तैयार रहिए। चुप रहिए, जब तक आपके दरवाजे तक ना आ जाएं, चुप रहिए। सीएए, एनआरसी का विरोध करने के लिए लोग जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के पास इकट्ठा हुए।

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग