दिल्ली में अब दंगों के बाद की शांति-शांति है

सीएए (CAA) और एनआरसी (NRC)के बवाल ने दिल्ली में दंगे का रूप ले लिया। पर अब दिल्ली में चारों ओर शांति शांति है। हालांकि कुछ इलाके में तनाव की खबरें हैं

 

नई दिल्ली। सीएए (CAA) और एनआरसी (NRC)के बवाल ने दिल्ली में दंगे का रूप ले लिया। पर अब दिल्ली में चारों ओर शांति शांति है। हालांकि कुछ इलाके में तनाव की खबरें हैं पर हिंसक छड़पों की खबर लगभग अब समाप्त हो चुकी है। पुलिस सूत्रों का कहना है कि इस दौरान अफवाहों का बाजार गर्म है पर इससे लोगों को प्रभावित होने की जरूरत नहीं है। कुछ शरारती तत्व लगातार अफवाह फैला रहे हैं कि यहां बवाल है तो वहां बवाल है पर इससे लोग परेशान नहीं हों।

 

दिल्ली के सभी इलाकों में शांति है। हालात बिल्कुल सामान्य हैं। दिल्ली  पुलिस ने लोगों से अफवाह पर ध्यान न देने और शांति बनाए रखने की अपील की है। अफवाह को भड़काने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया गया।

दिल्ली पुलिस के पीआरओ एमएस रंधावा का कहना है कि उत्तर-पूर्व जिले में हालात पूरी तरह सामान्य हैं। जहां धारा 144 लागू है, उसमें ढील दी गई है।  

शाम होते ही तमाम जगहों से दंगों की अफवाह उड़ी। लोग घरों से अफवाह की वजह से डंडे लेकर बाहर निकल रहे हैं। मंगोलपुरी की तरफ लोगों ने डर की वजह से दुकानें बंद कर दीं। जैतपुर, बदरपुर, शाहीन बाग, सुभाष नगर, ख्याला, मंगोलपुरी, रोहिणी अवन्तिका में अफवाह ने जोर पकड़ा, लेकिन हिंसा जैसे कोई बात नहीं है।

 

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग