कोरोना वायरस से डरे नहीं, ये रखें साथ, छू भी नहीं पाएगा कोरोना

कोरोना वायरस का कहर करीब 50 देशों में जारी है। आज नोएडा के लिए भी बुरी खबर आयी। दिल्ली, केरल, राजस्थान और कनार्टक में इसकी इंट्री ने पूरे

राजेश राय, नई दिल्ली। कोरोना वायरस का कहर करीब 50 देशों में जारी है। आज नोएडा के लिए भी बुरी खबर आयी। दिल्ली, केरल, राजस्थान और कनार्टक में इसकी इंट्री ने पूरे देश को दहशत में ला लिया है। हालांकि अभी इसकी कोई दवा तो नहीं खोजी जा सकी है पर इससे बचाव और भारतीय पद्धति यानि आयुर्वेद में इसकी दवा मौजूद है जो आपको इस वायरस से दूर रखेगा। वैसे इसे खाना नहीं है बस इसे अपने पास रखना है। कोरोना जैसा वायरस आपके करीब फटक भी नहीं सकेगा।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के लिए सबसे मुफीद ठंड़ी का मौसम होता है। जैसे ही यह 30 डिग्री तापमान में आता है वैसे ही यह अपना अस्तित्व खो देता है। इसलिए भारत में यह और 20 दिनों का मेहमान है इसलिए इससे जितना ज्यादा बचाव कर सकें उतना ही अच्छा होगा। क्योंकि 15 मार्च के बाद भारत में तापमान कम से कम उत्तर भारत में 30 डिग्री को पार कर जाएगा।  

क्या रखें अपना साथ

1. दो लौंग

2. एक इलायची

3.एक कपूर की टिक्की

4. एक फूल जावित्री का।

आप लौंग से तो परिचित होंगे ही। इलायची के बारे में भी जानते ही होंगे। कपूर तो सारे घरों में मौजूद ही है पर जावित्री का फूल मिलने में आपको थोड़ी कठिनाई हो सकती है, लेकिन आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। ये गरम मसाला का भाग है जो गाजरी कलर का होता है। इसे आप पनसारी की दुकान से खरीद सकते हैं। ये सारी चीजें एक साथ एक पोटली में रखकर आपने पास रखें। कोरोना क्या कोराना से भी खतरनाक कोई भी वायरस आपको छू भी नहीं पाएगा।

कोरोना का लक्षण

जब किसी भी व्यक्ति को तेज बुखार, खांसी, सर्दी और सांस लेने में परेशानी हो रही हो तो उसे तुरंत डाक्टर से संपर्क करना चाहिए। हालांकि यहां एक बात साफ कर दें कि सर्दी, खांसी, बुखार तो सामान्य है पर बुखार यदि तेज हो तो जरूर डाक्टर से मिले। इसके अलावा सांस भी लेने में परेशानी हो रही हो तो डाक्टर से मिलने में देर न करें। क्योंकि कोरोना से सतर्कता ही बचाव है।

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग