हनीमून में इटली से कोरोना का गिफ्ट लाया पेटीएम का कर्मचारी

गुडगांव। पेटीएम के कर्मचारी के लिए हनीमून मनाना काफी महंगा पड़ा। वह इटली गया तो था हनीमून मनाने पर वहां से गिफ्ट में लाया कोरोना वायरस।

 

गुडगांव। पेटीएम के कर्मचारी के लिए हनीमून मनाना काफी महंगा पड़ा। वह इटली गया तो था हनीमून मनाने पर वहां से गिफ्ट में लाया कोरोना वायरस। गुरुग्राम में पेटीएम के कर्मचारी की जांच में कोरोना वायरस से संक्रमित पुष्टि हो गई है। कंपनी ने कहा कि कर्मचारी हाल ही में इटली से छुट्टियां बिताकर लौटा था, जो कोरोनो वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में से एक है।

बयान के अनुसार कंपनी ने अपने सभी कर्मचारियों को अगले कुछ दिनों के लिए घर से काम करने की सलाह दी है, जबकि कंपनी की गुरुग्राम इकाई में सफाई की जा रही है। कंपनी ने बताया कि कर्मचारी को उचित उपचार दिया जा रहा है। एहतियात के तौर पर टीम के सभी सदस्यों को तुरंत कोरोनावायरस की जांच के लिए सुझाव दिया है।

कंपनी ने कोरोनावायरस से संक्रमित कर्मचारी मिलने के बाद कंपनी एनसीआर में अपने सभी कार्यालयों की साफ-सफाई करवा रही है। चूंकि इसमें कुछ दिन लगने की संभावना है, इसलिए कंपनी 5 और 6 मार्च को एनसीआर में अपने कार्यालय बंद रखेगी और कर्मचारियों को घर से ही काम करने के निर्देश दिए हैं।

कंपनी ने सावधानी के तौर गुरुग्राम कार्यालय में कर्मचारियों से जुड़े हैं और उन्हें दो सप्ताह के लिए घर से काम करने और सभी आवश्यक सावधानी बरतने को कहा है।

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग