बंगाल में जीत की पटकथा लिखेंगे पीएम मोदी

झारखंड उसके बाद दिल्ली की चुनावी रणनीति में फेल होने के बाद क्या भाजपा के चाणक्य अमित शाह का प्रार्दुभाव शुरू हो गया है या फिर भाजपा में जीत की बोहनी करने के लिए उनकी जगह पीएम

 

राजेश राय, नई दिल्ली। झारखंड उसके बाद दिल्ली की चुनावी रणनीति में फेल होने के बाद क्या भाजपा के चाणक्य अमित शाह का प्रार्दुभाव शुरू हो गया है या फिर भाजपा में जीत की बोहनी करने के लिए उनकी जगह पीएम नरेंद्र दामोदर मोदी को तैनात किया जा रहा है। सूत्र बता दें कि बंगाल में जीत की पटकथा के नायक पीएम मोदी ही होंगे। उनके ही सिर जीत की बोहनी करानी की होगी। क्योंकि यदि भाजपा बंगाल में जीत की शुरुआत नहीं कर पाएंगी तो आने वाले दिनों में उसे काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। क्योंकि उसे बिहार और यूपी में नकोचने चबाने पड़ सकते हैं।

बताया जा रहा है कि पीएम मोदी बंगाल में जीत के लिए तैयारी भी शुरू कर चुके हैं। राज्य में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए पीएम मोदी राज्य के सभी पार्टी सांसदों से मिल कर तैयारियों को अंतिम रूप दे रहे हैं।

बजट सत्र के दौरान पीएम मोदी, पार्टी के सांसदों से एक-एक कर दिल्ली के संसद भवन में अपने कार्यालय में मुलाकात कर रहे हैं। हर सांसद से 15-20 मिनट मुलाकात होती है। इसमें पीएम मोदी राज्य की राजनीतिक परिस्थिति के बारे में जानकारी ले रहे हैं।

पश्चिम बंगाल से भाजपा के 18 सांसद हैं। मोदी इनसे जानकारी ले रहे हैं कि केंद्र सरकार की योजनाओं का सीधा लाभ राज्य की जनता को मिल पा रहा है कि नहीं। वे राज्य की ममता बनर्जी सरकार के प्रदर्शन के बारे में भी इन सांसदों से जानकारी ले रहे हैं।

पीएम मोदी की दिलचस्पी इस बात में भी है कि राज्य में कौन से मुद्दे हावी हैं। भाजपा बंगाल को लेकर बेहद सक्रिय है। पार्टी को अपने लगातार सुधरते प्रदर्शन से काफी उम्मीदें हैं।

 

 

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग