कोरोना के भय से दिल्ली में स्कूल, कालेज, सिनेमा घर 31 मार्च तक बंद

नई दिल्ली। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO)  के बाद दिल्ली सरकार ने भी कोरोना को महामारी घोषित करते हुए दिल्ली के सभी स्कूल, कालेज, सिनेमा घर को 31 मार्च के लिए बंद कर दिया है।

 

नई दिल्ली। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO)  के बाद दिल्ली सरकार ने भी कोरोना को महामारी घोषित करते हुए दिल्ली के सभी स्कूल, कालेज, सिनेमा घर को 31 मार्च के लिए बंद कर दिया है। उपराज्यपाल के साथ मीटिंग के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस बात की घोषणा की।

इस तरह दिल्ली हरियाणा के बाद कोरोना को महामारी घोषित करने वाला दूसरा राज्य बन गया है। भारत में अब तक कुल 73 कोरोना के मरीज सामने आ चुके हैं और केरल में इसके सबसे ज्यादा मरीज हैं। दिल्ली सरकार ने सभी स्कूलों, कालेजों, सिनेमा हालों और अन्य पब्लिक इकट्ठा होने वाली बड़ी जगहों को 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया है। इसकी घोषणा करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि कोरोना वायरस से घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है।

दिल्ली में इससे निबटने के लिए पर्याप्त इंतजाम मौजूद हैं। इसके पहले हरियाणा जैसे राज्यों में भी इसे महामारी घोषित कर दिया गया है।

दिल्ली सरकार ने कोरोना वायरस से निबटने के लिए पर्याप्त इंतजाम होने का दावा किया है। एम्स और एक अन्य अस्पताल में कोरोना के जांच की व्यवस्था की गई है जबकि मरीजों को आइसोलेशन में रखने और उकी देखभाल के लिए लगभग 25 जगहों पर व्यवस्था कर दी गई है। सरकार ने कहा है कि अगर आवश्यकता पड़ती है तो इसके लिए और भी इंतजाम किए जाएंगे।

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग