कोरोना से तीन मौतें, 10 ठीक होकर घर लौटे

नई दिल्ली। कोरोना को लेकर नित नई खबरों से दहशत है। हालांकि देश के लिए एक और बुरी खबर है। कर्नाटक में पहली, दिल्ली में दूसरी और तीसरी मौत की खबर महाराष्ट्र से हैं जहां 71 वर्षीय मरीज सऊदी अरब से हाल ही में लौटे

 

नई दिल्ली। कोरोना को लेकर नित नई खबरों से दहशत है। हालांकि देश के लिए एक और बुरी खबर है। कर्नाटक में पहली, दिल्ली में दूसरी और तीसरी मौत की खबर महाराष्ट्र से हैं जहां 71 वर्षीय मरीज सऊदी अरब से हाल ही में लौटे थे। वे महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले के रहने वाले थे। वहीं एक अच्छी खबर यह है कि इन 84 संक्रमित मरीजों में 10 मरीज ऐसे हैं जो ठीक होकर घर वापस हो चुके हैं। एक बात और यहां गौर करने वाली है कि सभी मृतकों की उम्र 70 के पार है। इसलिए एक बात तो यह साफ है कि यह वायरस बुजुर्गों के लिए ज्यादा घातक सिद्ऱ हो रहा है।

 

 

 

 

महाराष्ट्र के मरीज के बारे में अस्पताल के अधिकारी ने बताया कि मृतक मधुमेह और उच्च रक्तचाप के मरीज थे। हालांकि, अभी कोरोना से मौत की स्पष्ट पुष्टि नहीं हुई है।

सिविल सर्जन प्रेमचंद पंडित ने बताया कि कुछ दिन पहले उच्च रक्तचाप की शिकायत होने पर मरीज को एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था और शनिवार सुबह कोरोना वायरस से संक्रमण के लक्षण सामने आने पर बुलढाणा के जनरल अस्पताल में स्थानांतरित किया गया था। 

उन्होंने बताया, 'मृतक के नमूने परीक्षण के लिए प्रयोगशाला भेजे गये हैं। उसकी मौत दोपहर चार बजकर 20 मिनट पर हुई और जांच रिपोर्ट की प्रतीक्षा की जा रही है।'

 

दरअसल, स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, कोरोना वायरस के भारत में अब तक 84 मामले सामने आ चुके हैं। कोरोना की जांच में पॉजिटिव पाए गए 84 लोगों के संपर्क में आए 4,000 से ज्यादा लोगों को निगरानी में रखा गया है। साथ ही कोरोना वायरस की जांच में पॉजिटिव पाए गए सात लोगों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी दी गई है।

सऊदी अरब से हाल में लौटे कलबुर्गी के 76 वर्षीय एक व्यक्ति की गुरुवार को मौत हो गई थी, जबकि कोरोना वायरस से संक्रमित दिल्ली की 68 वर्षीय एक महिला की शुक्रवार की रात राम मनोहर लोहिया (आरएमएल) अस्पताल में हो गई थी। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि महिला का पुत्र विदेश से आया था और वह कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था। महिला की मौत मधुमेह और उच्च रक्तचाप के कारण हुई।

दिल्ली में अब तक कोरोना वायरस के संक्रमण के सात मामले और उत्तर प्रदेश में 11 मामले सामने आए हैं। कर्नाटक में कोरोना वायरस के छह मरीज जबकि महाराष्ट्र में 14 और लद्दाख में तीन मरीज हैं। इसके अलावा राजस्थान, तेलंगाना, तमिलनाडु, जम्मू कश्मीर, आंध प्रदेश और पंजाब से एक-एक मामला सामने आया है।

केरल में कोरोना वायरस के 19 मामले दर्ज किए गए हैं, जिनमें से तीन मरीजों को पिछले महीने इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई थी। मंत्रालय के अधिकारियों ने बताया कि 84 पुष्ट मामलों में 17 विदेशी नागरिक शामिल हैं। इनमें इटली के 16 पर्यटक और कनाडा का एक नागरिक है।

 

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग