सोशल मीडिया पर पोस्ट करना कश्मीर के महिला पत्रकार को पड़ा भारी

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर पोस्ट करना जम्मू-कश्मीर के एक महिला पत्रकार को भारी पड़ गया। उसके खिलाफ पुलिस ने गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम यानी यूएपीए के तहत केस दर्ज किया गया

 

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर पोस्ट करना जम्मू-कश्मीर के एक महिला पत्रकार को भारी पड़ गया। उसके खिलाफ पुलिस ने गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम यानी यूएपीए के तहत केस दर्ज किया गया। महिला पत्रकार स्वतंत्र फोटो पत्रकार है और कई संस्थाओं में काम कर चुकी है। वहीं दूसरी ओर एक न्यूज पेपर में छपी स्टोरी के लिए पुलिस ने पत्रकार पीरजादा आशिक के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस का कहना है कि पीरजादा की स्टोरी गलत है।

केस दर्ज करने के बाद श्रीनगर पुलिस की  साइबर सेल का कहना है कि लगातार यह देखने में आ रहा था कि कश्मीर की 26 साल की फोटोग्राफर मशरत जाहरा सोशल मीडिया पर राष्ट्रीय विरोधी पोस्ट कर रहीं थी। इस पोस्ट से वह कश्मीर के युवाओं को भड़काने का काम कर रहीं थी जोकि देशहित में नहीं है। ऐसे में उनके खिलाफ केस दर्ज कर जांच की जाएगी। जांच में सही पाए जाने के बाद कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वहीं पूरे मामले पर मशरत का कहना है कि उन्होंने कोई ऐसी नहीं है जिससे कोई भी युवा भड़के और उसमें कोई राजनीतिक एजेंडा हो। यह कार्रवाई पूरी तरह से पत्रकारों को परेशान करने और दबाव बनाने के लिए की गई हैं।

वहीं दूसरा मामला ‘द हिंदू' अखबार के रिपोर्टर पीरजादा आशिक के खिलाफ हुआ है। पुलिस का कहना है कि शोपियां एनकाउंटर और उसके बाद के घटनाक्रमों पर फेक न्यूज प्रकाशित की गई है। न्यूज में कोई भी तथ्य नहीं है। वहीं पीरजादा का कहना है परिवार के साक्षात्कार के आधार पर खबर बनाई गई है। उन्होंने यह भी दावा किया कि आधिकारिक बयान के लिए सम्पर्क किया गया। दोनों पत्रकारों पर मामला दर्ज होने के बाद एडिटर्स गिल्ड आफ इंडिया ने भी बयान दिया है। कहा है कि यूएपीए का दुरुपयोग किया जा रहा है। उन्होंने सरकार की कार्रवाई पर हैरत जताते हुए विरोध किया है।

 

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग