अजय राय की गिरफ्तारी से यूपी में नई राजनीति की हलचल

कांग्रेस नेता अजय राय ने गिरफ्तारी की निंदा की और कहा कि प्रदेश सरकार लोकतंत्र का गला घोट रही है। श्रमिकों की मदद करने के लिए आगे आए प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू को गिरफ्तार किया गया।

वाराणसी, जेएनएन। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू की गिरफ्तारी के विरोध में मैदागिन स्थित टाउन हॉल मैदान में शनिवार को गांधी प्रतिमा के नीचे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री अजय राय समर्थकों के साथ सांकेतिक धरना दे रहे थे। यह कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के निर्देश पर हो रहा था, जिसकी सूचना जिला प्रशासन को भी दी गई थी। हालांकि धरने की अनुमति नहीं मिली थी। इसके बाद भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने धरना दिया। सुबह 11 बजे धरना शुरू हुआ। शनिवार दोपहर डेढ़ बजे गिरफ्तारी हो गई। करीब 100 कार्यकर्ताओं के साथ अजय राय को गिरफ्तार कर लिया गया और पुलिस लाइन भेजा गया।

 

कांग्रेस नेता अजय राय ने गिरफ्तारी की निंदा की और कहा कि प्रदेश सरकार लोकतंत्र का गला घोट रही है। श्रमिकों की मदद करने के लिए आगे आए प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू को गिरफ्तार किया गया। अब सूचना देकर हम लोग शांति से गांधी की प्रतिमा के नीचे सांकेतिक धरना दे रहे थे तो पुलिस ने हम सभी को गिरफ्तार किया है। कहा कि केंद्र व प्रदेश की भाजपा सरकार जनता के साथ धोखा कर रही है। रोजगार के नाम पर झूठ बोल रही है। कंपनियों से लोग निकले जा रहे है और सरकार के नुमाइंदे लाखों को रोजगार देने का दावा कर रहे है। कांग्रेस महानगर अध्यक्ष राघवेंद्र चौबे, शैलेंद्र सिंह, जितेंद्र सेठ, संजय सिंह डॉक्टर आदि शामिल थे।

 

दूसरी तरफ कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के निर्देशानुसार उत्तर प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू की गिरफ्तारी के खिलाफ पार्टी का सेवा सत्‍याग्रह जारी है। बीते शुक्रवार यानी 12 जून को सातवें कड़ी में लहुराबीर पर  जिला व महानगर कांग्रेस कमेटी की ओर से सेवा सत्याग्रह के तहत शुरू रसोई घर से खाना तैयार कर वितरण किया गया। प्रदेश महासचिव विश्वविजय सिंह ने बताया कि पूरे उत्तर प्रदेश के कार्यकर्ता अपने प्रदेश अध्यक्ष की रिहाई तक गांधीवादी तरीके से अपनी लड़ाई जारी रखेंगे।

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग