सुशांत का जाना...लग रहा है कोई अपना चला गया

सुशांत सिंह राजपूत का जाना जैसे लग रहा है कि कोई अपना चला गया। आज पटना में जन्में फिल्म स्टार सुशांत सिंह राजपूत ने मुंबई में अपने फ्लैट पर फांसी लगा ली। धोनी की जीवन पर बनी फिल्म एमएस धोनीः अनटोल्ड स्टोरी

 

सुशांत सिंह राजपूत का जाना जैसे लग रहा है कि कोई अपना चला गया। आज पटना में जन्में फिल्म स्टार सुशांत सिंह राजपूत ने मुंबई में अपने फ्लैट पर फांसी लगा ली। धोनी की जीवन पर बनी फिल्म एमएस धोनीः अनटोल्ड स्टोरी में वे मुख्य किरदार में थे। उन्होंने कई सफल फिल्में दी हैं जिसमें केदारनाथ, छिछोरे आदि शामिल हैं। हालांकि वे किस कारण से फांसी लगाए इस बारे में तो जानकारी नहीं हो सकी है पर माना जा रहा है कि उनके पास न तो पैसे की कोई कमी थी न ही कोई अन्य कारण। बताया जा रहा है कि इस समय उनके पास करीब 60 करोड़ रुपये थे। वे हर फिल्म का करीब करीब 6 से 7 करोड़ लेते थे। पाश इलाके बांद्रा में उनका फ्लैट थे। उनकी दो बहनें हैं जो एक दिल्ली और चंढ़ीगढ़ में रहती हैं। उनके पापा केके सिंह पटना में रहते हैं। माता जी नहीं हैं। माता जी को लेकर उन्होंने कुछ दिनों पहले ही एक पोस्ट डाली थी। जो काफी चर्चित हुई थी।

आत्महत्या का पैसे से तो कोई तुक अभी समझ नहीं आ रहा है पर यदि कोई भावनात्मक मामला नहीं है तो फिर पुलिस को इस मामले की पड़ताल करनी चाहिए। सुशांत के मामा ने तो बकायदा इसकी सीबीआई जांच की मांग की है।

 

 

सुशांत बॉलीवुड के बेहद लोकप्रिय एक्टर थे. उन्होंने अपने करियर की शुरुआत टीवी एक्टर के तौर पर की थी. उन्होंने सबसे पहले 'किस देश में है मेरा दिल' नाम के धारावाहिक में काम किया था पर उन्हें पहचान एकता कपूर के धारावाहिक पवित्र रिश्ता से मिली .इसके बाद उन्हें फिल्मों का सफर शुरु किया था. वे फिल्म काय पो छे में लीड एक्टर के तौर पर नजर आए थे, और उनके अभिनय की तारीफ भी हुई थी. मानव के रोल में वे हर घर में प्रवेश कर गए। यहीं कारण है कि लोगों को विश्वास नहीं हो रहा है कि दिन रात मानवीय संवेदनाओं पर फिल्म करने वाला अभिनेता खुद ही इसका शिकार हो जाएगा।

 

सुशांत फिल्म सोनचिड़िया और छिछोरे जैसी फिल्मों में नजर आ चुके थे. उनकी आखिरी फिल्म केदारनाथ थी जिसमें वे सारा अली खान के साथ दिखे थे.

गौरतलब है कि पिछले कुछ समय में बॉलीवुड के कई दिग्गज कलाकारों ने इस दुनिया को अलविदा कहा है. अप्रैल के महीने में इरफान खान और ऋषि कपूर जैसे लेजेंडरी कलाकारों का निधन हुआ था. वही हाल ही में सिंगर और म्यूजिक कंपोजर वाजिद खान का 42 साल की उम्र में निधन हुआ था. इसके अलावा पिछले महीने वरिष्ठ गीतकार योगेश गौर भी इस दुनिया को अलविदा कह गए थे.

 

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग