राहुल गांधी से खफा है भाजपा, पीएम को कह गए 'Surender Modi

कांग्रेस (congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (rahul gandhi) ने लद्दाख (ladakh) में चीन के साथ गतिरोध को लेकर एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर रविवार को जोरदार हमला किया है.

कांग्रेस (congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (rahul gandhi) ने लद्दाख (ladakh) में चीन के साथ गतिरोध को लेकर एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर रविवार को जोरदार हमला किया है. उन्होंने नरेंद्र मोदी का नाम बदल दिया है. दरअसल, राहुल गांधी ने अपने ट्विटर वॉल पर लिखा कि नरेंद्र मोदी (narendra modi) वास्तव में Surender Modi हैं....इस ट्वीट के साथ उन्होंने एक खबर शेयर किया है. आपको बता दें कि राहुल चीन के मामले को लेकर रोज पीएम मोदी को निशाने पर ले रहे हैं.

 

इससे पहले राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान को लेकर शनिवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने भारतीय क्षेत्र चीन को सौंप दिया है. उन्होंने ट्वीट किया कि प्रधानमंत्री ने चीनी आक्रामकता के आगे भारतीय क्षेत्र को चीन को सौंप दिया है. कांग्रेस नेता ने सवाल किया कि अगर यह भूमि चीन की थी तो हमारे सैनिक क्यों शहीद हुए? वे कहां शहीद हुए?गौरतलब है कि मोदी ने भारत-चीन तनाव पर शुक्रवार को बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में कहा कि न कोई हमारे क्षेत्र में घुसा और न ही किसी ने हमारी चौकी पर कब्जा किया है.

भाजपा ने इस राहुल गांधी के इस ट्वीट पर तीखी प्रतिक्रिया दी है. पार्टी के राष्‍ट्रीय प्रवक्‍ता शाहनवाज हुसैन ने एक वीडियो जारी किया है और कहा है कि 'राहुल गांधी मर्यादा तोड़ रहे हैं.' कई भाजपा नेताओ ने राहुल के इस ट्वीट को 'शर्मनाक' बताया है. शाहनवाज हुसैन वीडियो में कहते नजर आ रहे हैं कि कांग्रेस पार्टी और उसके नेता राहुल गांधी मर्यादा का उल्लंघन कर रहे हैं. वे देश का अपमान कर रहे हैं. भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सरेंडर मोदी कह देना, देश की जनता बर्दाश्‍त नहीं करेगी....जिस प्रकार की भाषा का उपयोग वे कर रहे हैं...वैसी भाषा दुश्‍मन देश का नेता भी भारत के लिए उपयोग में नहीं लाता है. लेकिन शुरू से, जब से चीन और भारत के बीच तनाव पैदा हुआ है, उस दिन से लेकर रोज राहुल गांधी भारत और भारत के प्रधानमंत्री का अपमान करते नजर आ रहे हैं. आगे उन्होंने कहा कि जिस तरह की भाषा राहुल गांधी ने कही है, उसके लिए उनको माफी मांगनी चाहिए...

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग