तमिलनाडु में कोरोना से एक पत्रकार की मौत

चेन्नई। तमिल टीवी चैनल में काम करने वाले 41 वर्षीय एक वीडियो पत्रकार की शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से यहां कोविड-19 अस्पताल में मौत हो गई।  मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने कहा कि वीडियो पत्रकार यहां एक अस्पताल में 14

चेन्नई। तमिल टीवी चैनल में काम करने वाले 41 वर्षीय एक वीडियो पत्रकार की शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से यहां कोविड-19 अस्पताल में मौत हो गई।  मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने कहा कि वीडियो पत्रकार यहां एक अस्पताल में 14 जून से ही संक्रमण का इलाज करा रहे थे लेकिन शनिवार को उनकी मौत हो गई।

 

मुख्यमंत्री ने मौत पर शोक व्यक्त करते हुए शोक संतप्त परिवार को पांच लाख रुपये की मदद राशि देने का आदेश दिया। सूचना मंत्री कादम्बर राजू ने भी पत्रकार की मौत पर दुख व्यक्त किया और 50,000 रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की। ग्रेटर चेन्नई निगम आयुक्त जी प्रकाश ने कहा कि वीडियो पत्रकार ई वेलमुरुगन की मौत दुर्भाग्यपूर्ण है और वह इससे दुखी हैं। चेन्नई प्रेस क्लब ने एक बयान में कहा कि पत्रकार के पास करीब 20 साल का अनुभव था और वह कई मीडिया घरानों के लिए काम कर चुके थे। उनके परिवार में पत्नी और 12 साल का बेटा है। प्रेस क्लब ने पत्रकार की मौत पर दुख व्यक्त करते हुए शोक संतप्त परिवार के लिए 50 लाख रुपये की सहायता राशि और विधवा के लिए सरकारी नौकरी तथा सभी पत्रकारों के लिए बीमा योजना घोषित करने की मांग की है।

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग