सुशांत सिंहके परिवार के बीच शेखर सुमन, दुख बांटा

नई दिल्ली: सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के निधन से हर कोई दुखी है. बीते कई दिनों से बॉलीवुड सेलेब्स से लेकर राजनेता तक सुशांत सिंह राजपूत के पटना वाले घर पर पहुंच रहे हैं और दुख जता रहे हैं. अब हाल ही में बॉलीवुड

नई दिल्ली: सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के निधन से हर कोई दुखी है. बीते कई दिनों से बॉलीवुड सेलेब्स से लेकर राजनेता तक सुशांत सिंह राजपूत के पटना वाले घर पर पहुंच रहे हैं और दुख जता रहे हैं. अब हाल ही में बॉलीवुड एक्टर शेखर सुमन (Shekhar Suman) सुशांत सिंह राजपूत के उनके परिवार से मिलने पटना पहुंचे और परिवारजनों को सांत्वना दी. सोशल मीडिया पर शेखर सुमन के कई फोटो और वीडियो वायरल हो रहे हैं. इन तस्वीरों में शेखर के साथ सुशांत के करीबी दोस्त संदीप सिंह भी नजर आए. 

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के परिवार से मुलाकात करने के दौरान शेखर सुमन काफी भावुक दिखे. उन्होंने एक्टर के पिता का दर्द बयां करते हुए ट्विटर पर एक फोटो शेयर किया. उन्होंने लिखा, "सुशांत के पिता से मिला, उनके दुख को साझा किया. हम कुछ मिनटों के लिए शब्दों का आदान-प्रदान किए बिना एक साथ बैठे रहे. वह अभी भी गहरे सदमे की स्थिति में है. मुझे दुख व्यक्त करने का सबसे अच्छा तरीका शांति लगती है." शेखर सुमन (Shekhar Suman Twitter) का यह ट्वीट खूब वायरल हो रहा है और लोग इस पर अपनी प्रतिक्रिया भी दे रहे हैं. 

शेखर सुमन (Shekhar Suman) से पहले भी कई राजनेताओं जैसे तेजस्वी यादव, सुशील कुमार मोदी, रवि शंकर प्रसाद और  मनोज तिवारी ने भी उनके परिवारवालों से मुलाकात की थी. गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) 14 जून को अपने आवास पर मृत पाए गए थे

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग