वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ को मिली सुप्रीम कोर्ट से राहत

नई दिल्ली । सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को 15 जुलाई तक वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ को उनके YouTube शो में हिमाचल प्रदेश के एक स्थानीय भाजपा नेता द्वारा उनके खिलाफ दायर राजद्रोह मामले में किसी भी आक्रामक कार्रवाई से सुरक्षा प्रदान की है।

नई दिल्ली । सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को 15 जुलाई तक वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ को उनके यू ट्यूब (YouTube) शो में हिमाचल प्रदेश के एक स्थानीय भाजपा नेता द्वारा उनके खिलाफ दायर राजद्रोह मामले में किसी भी आक्रामक कार्रवाई से सुरक्षा प्रदान की है। न्यायमूर्ति यू यू ललित की अध्यक्षता वाली पीठ ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए की गई सुनवाई में हिमाचल प्रदेश पुलिस को मामले में दुआ को गिरफ्तार करने से रोक दिया और अगले बुधवार को पत्रकार की याचिका पर सुनवाई करने का फैसला किया।

यह भी कहा कि पुलिस जांच में शामिल होने वाले दुआ को मामले में पुलिस के पूरक सवालों के जवाब देने की आवश्यकता नहीं है। इससे पहले, शीर्ष अदालत ने रविवार को राजद्रोह मामले में 'आगे के आदेश' तक दुआ को गिरफ्तारी से सुरक्षा प्रदान की थी। शिमला जिले के कुमारसैन पुलिस स्टेशन में भाजपा नेता श्याम द्वारा 6 मई को छेड़खानी, सार्वजनिक उपद्रव, मुद्रण अपमानजनक सामग्री और सार्वजनिक उपद्रव के अपराधों के लिए आईपीसी प्रावधानों के तहत दुआ के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई और पत्रकार को जांच में शामिल होने के लिए कहा गया।

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग