सुशांत सिंह राजपूत के बारे में डायरेक्टर ने बतायी ये नई बात

सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म दिल बेचारा जल्द ही रिलीज होने वाली है। फैन्स इस फिल्म की रिलीज का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। फिल्म में सुशांत के साथ संजना सांघी नजर आने वाली हैं। इस फिल्म के एक सीन में बाइक का इस्तेमाल किया है।

सुशांत सिंह राजपूत की आखिरी फिल्म दिल बेचारा जल्द ही रिलीज होने वाली है। फैन्स इस फिल्म की रिलीज का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। फिल्म में सुशांत के साथ संजना सांघी नजर आने वाली हैं। इस फिल्म के एक सीन में बाइक का इस्तेमाल किया है। इस बाइक का सुशांत से खास कनेक्शन था। फिल्म के डायरेक्टर मुकेश छाबड़ा ने इस बारे में बताया।

मुकेश ने बताया कि कैसे सुशांत इस बाइक को लेकर अपने एक साथी के साथ घूमने निकल जाया करते थे। उन्होंने कहा, हमारी फिल्म में एक बाइक है जो सुशांत के किरदार मैनी की है। हम जमशेदपुर में शूटिंग कर रहे थे और वहां का मौसम इतना अजीब था कि वहां पर अचानक बारिश हो जाती थी। उस समय हम छोटे बच्चों की तरह बारिश में भीग रहे थे। उस दौरान सुशांत फिल्म के गाने गाते रहे और बाइक को घुमाते रहे।

सुशांत के साथ अपनी दोस्ती को याद करते हुए मुकेश ने कहा, 'हम वास्तव में एक दूसरे के स्ट्रेस बस्टर हुआ करते थे। जब भी हमें मौका मिलता था, हम सेट पर नाचते-गाते थे'।

'दिल बेचारा' 24 जुलाई को डिज्नी प्लस हॉटस्टार ओटीटी प्लैटफार्म पर रिलीज की जाएगी। मुकेश छाबड़ा द्वारा निर्देशित इस फिल्म के जरिए संजना बॉलीवुड डेब्यू कर रही हैं।

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग