राशिद बोले- अफगानिस्तान WC जीतेगा तब शादी करूंगा, उड़ा मजाक

अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के लेग स्पिनर राशिद खान का कहना है कि वह शादी तभी करेंगे जब उनका देश क्रिकेट वर्ल्ड कप जीतेगा. आजादी रेडियो को दिए एक इंटरव्यू में राशिद खान ने कहा, 'मैं तभी शादी करूंगा, जब अफगानिस्तान वर्ल्ड कप जीत लेगा.'

अफगानिस्तान क्रिकेट टीम के लेग स्पिनर राशिद खान का कहना है कि वह शादी तभी करेंगे जब उनका देश क्रिकेट वर्ल्ड कप जीतेगा. आजादी रेडियो को दिए एक इंटरव्यू में राशिद खान ने कहा, 'मैं तभी शादी करूंगा, जब अफगानिस्तान वर्ल्ड कप जीत लेगा.'

राशिद खान के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर फैंस उनका जमकर मजाक उड़ा रहे हैं. ट्विटर पर राशिद खान के मीम्स वायरल हो रहे हैं. राशिद खान IPL में सनराइजर्स हैदराबाद के लिए खेलते हैं.

इस तस्वीर में दिखाया गया है कि राशिद खान साल 2050 तक अफगानिस्तान के वर्ल्ड कप जीतने और अपनी शादी का इंतजार कर रहे हैं.बता दें कि राशिद खान ने साल 2015 में इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया था. वह इंग्लैंड में खेले गए 2019 वर्ल्ड कप में अफगानिस्तान क्रिकेट टीम का हिस्सा भी थे, लेकिन उनकी टीम पॉइंट्स टेबल में आखिरी स्थान पर रही और ग्रुप दौर से ही बाहर हो गई.2019 वर्ल्ड कप में राशिद खान ने 9 मैचों में 6 विकेट ही लिए थे. राशिद खान टी-20 फॉर्मेट में दुनिया के नंबर 1 गेंदबाज हैं. सोशल मीडिया पर राशिद खान के बयान पर फैंस ने जमकर मजे लिए हैं.राशिद खान ने इंटरव्यू में कहा था कि वह अपनी शादी के लिए प्लान बना रहे हैं, लेकिन वो चाहते हैं कि उससे पहले अफगानिस्तान की टीम वर्ल्ड कप खिताब जीत जाए. एक बार अफगानिस्तान वर्ल्ड कप जीत जाए तो फिर वह सगाई और शादी करेंगे.

जनसत्ता एक्सप्रेस एक स्वतंत्र मंच है। जहां आपको अपनी बात रखने की, अपने विचार रखने की, अपने जज्बात रखने की खुली छूट है। पर एक बात यहां साफ कर दें कि पत्रकारिता के भी कुछ मूलभूल सिद्धांत हैं जिससे परे हम लोग भी नहीं। पर आप जनसत्ता एक्सप्रेस के साथ किसी भी रूप में जुड़ना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। हम या आपको उतना ही आदर देंगे, सम्मान देंगे जितना अपने सहकर्मी को। इसलिए आप अपने क्षेत्र की खबरें, वीडियो हमें शेयर करें। हम उन्हें जनसत्ता एक्सप्रेस पर प्रकाशित करेंगे। इसके लिए आप jansattaexp@gmail.com का उपयोग कर सकते हैं। या फिर हमें आप whatsup भी 7678313774 पर कर सकते हैं। फोन तो आप कर ही सकते हैं। इसलिए एक नेक काम के लिए, पत्रकारिता को जिंदा रखने के लिए हमारे साथ, हमारी टीम का हिस्सा बनिए और स्वतंत्र पत्रकार, फोटोग्राफर, स्तंभकार के रूप में अपने अंदर के पत्रकार को जिंदा रखिए। हमारी टीम तो आपके साथ है ही।

राजेश राय, संपादक, जनसत्ता एक्सप्रेस

ट्रेंडिंग